Wednesday, February 8, 2023
No menu items!
Google search engine
Homeअन्यबागेश्वर : कुमाऊं आयुक्त व डीएम ने लोक निर्माण विभाग डाक बंगले...

बागेश्वर : कुमाऊं आयुक्त व डीएम ने लोक निर्माण विभाग डाक बंगले में क्षेत्रवासियों की जन समस्यायें सुनी व क्षेत्र में पर्यटन को बढ़ाने के लिए मांगे सुझाव

बागेश्वर::- अपने चार दिवसीय पिण्डारी ग्लेशियर भ्रमण पर शनिवार को मण्डलायुक्त दीपक रावत व जिलाधिकारी रीना जोशी अधिकारियों के साथ पिण्डारी ग्लेशियर क्षेत्र के अन्तिम गॉव खाती पहुॅचे। खाती पहुॅचकर आयुक्त व जिलाधिकारी ने लोक निर्माण विभाग डाक बंगले में क्षेत्रवासियों की जन समस्यायें सुनी व क्षेत्र में पर्यटन को बढ़ाने हेतु सुझाव भी मांगे।

आयुक्त ने अधिशासी अभियंता पीएमजीएसवाई को खाती गॉव तक निर्माणाधीन सड़क को शीघ्र पूर्ण करने व सड़क निर्माण का मलुवा लोगों के खेतों से तुरन्त हटाने के निर्देश दिये।

क्षेत्रवासियों ने आयुक्त व जिलाधिकारी को अपनी क्षेत्र की समस्यायें बताते हुए कहा कि खाती से पिण्डारी तक का मार्ग क्षतिग्रस्त होने से आवागमन में परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है साथ ही क्षतिग्रस्त पैदल मार्ग जगह-जगह क्षतिग्रस्त है जिसमें स्थानीय लोगों के साथ ही पर्यटकों को भी असुविधाओं का सामना करना पड़ रहा है। इसलिए पिण्डारी ट्रैक रूट का शीघ्र मरम्मत किया जाय, साथ ही अनरोध किया कि प्रतिवर्ष वर्षाकाल व शरदकाल में मार्ग वर्षा व बर्फ से क्षतिग्रस्त हो जाता है इस पैदल पिण्डारी मार्ग का पर्यटन सीजन से पूर्व प्रतिवर्ष सुधारीकरण कार्य कराने की मांग की। साथ ही खाती-पिण्डारी रूट पर सुचारू संचार व्यवस्था, खाती पिण्डारी मार्ग पर पेयजल व शौचालय व्यवस्था, सुन्दरढुंगा ट्रेक रूट की मरम्मत, नये ट्रैक रूट विकसित करने के साथ ही इण्टर कालेज खाती में नियमित प्रधानाचार्य नियुक्त करने के साथ ही शिक्षकों की तैनाती कराने का अनुरोध किया।



ग्राम प्रधान खाती कैलाश सिंह दानू ने खाती ग्राम के बीचों-बीच जाने वाला पैदल रास्ता खराब होने से ग्रामवासियों व स्कूली बच्चों को हो रही परेशानियों से अवगत कराते हुए गॉव के पैदल मार्ग की मरम्मत एवं सुधारीकरण करोन का अनुरोध भी कियासाथ ही सड़क निर्माण से टूटी पेयजल लाइन की मरम्मत कराकर पेयजल सुचारू करने का अनुरोध किया, जिस पर आयुक्त ने अधि.अभि को तुरन्त पेयजल लाईन की मरम्मत कराकर गॉव में पेयजल सुचारू करने के निर्देश मौके पर दिये। आयुक्त ने कहा कि पिण्डारी, सुन्दरढुंगा ग्लेशियर जाने वाले पर्यटक ग्लेशियरों में गंदगी न करें जो भी प्लास्टिक आदि सामग्री ले जाने है उसे वापस भी अनिवार्य रूप से लायें। आयुक्त ने पिण्डारी ग्लेशियर व खाती वॉकी-टॉकी संचार व्यवस्था भी जांची।

इस दौरान प्रबंध निदेशक कु.मा.वि.नि विनीत तोमर, उप जिलाधिकारी परितोष वर्मा, अधि.अभि लोनिवि संजय पाण्डे, पीएमजीएसवाई लसपाल, जिला पूर्ति अधिकारी मनोज वर्मन, जिला पर्यटन अधिकारी कीर्ति आर्या, तहसीलदार पूजा शर्मा आदि मौजूद थे।

सम्बंधित खबरें
- Advertisment -spot_imgspot_img

ताजा खबरें