Wednesday, February 8, 2023
No menu items!
Google search engine
Homeउत्तराखंडअल्मोड़ा : हमारी सभ्यता संस्कृति और धरोहर बचाने के उद्देश्य से ...

अल्मोड़ा : हमारी सभ्यता संस्कृति और धरोहर बचाने के उद्देश्य से गोलज्यू संदेश यात्रा पहुंची अल्मोड़ा, श्रद्धालुओं के किया भव्य स्वागत

अल्मोड़ा ::- हमारी सभ्यता संस्कृति और धरोहर बचाने के उद्देश्य से मुनस्यारी के वर्तीधार से शुरू हुई गोलज्यू संदेश यात्रा अल्मोड़ा पहुँची। अल्मोड़ा में यह भव्य संदेश यात्रा अपने 15 पडा़व गोलज्यु के अलग अलग धाम में पूरे करने के पश्चात 16 वे पड़ाव अल्मोड़ा पहुँची। इस दौरान कुमाऊँ के इष्ट देवता न्यायप्रिय गोलज्यु की श्रद्धालुओं ने बहुत ही अधिक संख्या में इस संदेश यात्रा में अपनी भागीदारी देकर गोलज्यु की पूजा अर्चना की , कुमाऊंनी परिधान में सजी सैकड़ों महिलाओं ने यात्रा का अल्मोड़ा में भव्य स्वागत किया।


अल्मोड़ा पहुंचने के बाद यात्रा कलबिष्ट डाना गोलू मंदिर को रवाना हुई, जहां गोलू देवता की पूरी श्रद्धा से अर्चना हुई। वहीं इसके बाद यात्रा प्रसिद्ध गोलज्यु के चितई मंदिर पहुंची। जहां पूजा अर्चना के बाद देर रात गोल्ज्यू चौपाल का आयोजन किया गया। इसके बाद यह यात्रा डोल आश्रम मार्ग से चम्पावत को प्रस्थान करेगी।

अल्मोड़ा पहुंचने से पहले भी जगह-जगह यात्रा का भव्य स्वागत किया गया। माल रोड में वाद्य यंत्रों के साथ पथ यात्रा निकाली गई। भैरव मंदिर में पूजा अर्चना के बाद यात्रा अपने अगले पड़ाव को रवाना हुई।

गोलज्यु की यह संदेश यात्रा 26 पडा़वो से होते हुए करीब 2200 किमी का सफर तय कर 5 मई को नैनीताल के घोड़ाखाल गोलज्यु मंदिर में पहुँचकर संपन्न होगी।

इस संदेश यात्रा के आयोजक गणेश सिंह मर्तोलिया ने इस यात्रा का उद्देश्य हमारी पवित्र धार्मिकता का प्रचार प्रसार व इष्ट देवता गोलज्यु की छत्रछाया में पहाड़ से पलायन को रोकने के लिए हिटो पहाड़ के नारे के साथ अपनी सांस्कृतिक धरोहर एवं धार्मिक मूल्यों के प्रचार प्रसार व संरक्षण एवं संवर्धन को बताया।


सम्बंधित खबरें
- Advertisment -spot_imgspot_img

ताजा खबरें