Wednesday, February 8, 2023
No menu items!
Google search engine
Homeउत्तराखंडभत्रोंजखान:राज्य स्थापना दिवस पर राजकीय महाविद्यालय भत्रोजखान में हुए लोक संस्कृति पर...

भत्रोंजखान:राज्य स्थापना दिवस पर राजकीय महाविद्यालय भत्रोजखान में हुए लोक संस्कृति पर आधारित सांस्कृतिक कार्यक्रम

भत्रोंजखान /रानीखेत ::- 22वीं उत्तराखंड राज्योत्सव के शुभ उपलक्ष्य पर राजकीय महाविद्यालय भत्रोजखान में हुए लोक संस्कृति पर आधारित सांस्कृतिक कार्यक्रम।

कार्यक्रम का सफल आयोजन प्राचार्य प्रो.सीमा श्रीवास्तव के मार्गदर्शन में मुख्य शास्ता डॉ.शैलेंद्र कुमार सिंह, डॉ.केतकी तारा कुमाय्याँ , कार्यक्रम अधिकारी उत्तराखंड राज्योत्सव के नेतृत्व में , प्रवेश प्रभारी डॉ.रविन्द्र कुमार के सहयोग से एवं समस्त प्राध्यापको व कार्यालय स्टाफ के अमूल्य समर्थन से संभव हो पाया।

कार्यक्रम का प्रारंभ प्रभात फेरी के उद्घोष जय उत्तराखंड ,जय देवभूमि एवं राज्य आंदोलनकारी अमर रहे से हुआ जिसमे उत्तराखंड दिवस शपथ भी ली गई। इसके बाद शौर्य दीवार का उद्घाटन करते हुए उत्तराखंड के अमर शहीदों को भावभीनी श्रद्धांजलि दी गई।

प्रभात फेरी



डॉ.केतकी द्वारा अतिथियों का स्वागत करते हुए उत्तराखंड गौरव सम्मान से अलंकृत होने वाले सभी विभूतियों को महाविद्यालय की ओर से बधाई प्रेषित की गई। तत्पश्चात प्राचार्य प्रो. सीमा श्रीवास्तव द्वारा उत्तराखंड की 22वी वर्षगांठ पर शुभकामना संदेश प्रेषित की गई। इस दौरान मुख्य शास्ता डॉ. शैलेंद्र द्वारा पलायन को रोकने के लिए सभी युवाओं को प्रोत्साहित किया गया एवं वास्तविक विकास तभी संभव होगा जब आत्मनिर्भरता का मार्ग सभी अपनाए। वही डॉ. रविन्द्र द्वारा उत्तराखंड के विकास के साथ साथ भ्रष्टाचार एवं नशा जैसी उभरती नकारात्मकताओं पर प्रहार किया गया ।



इस दौरान आयोजित सांस्कृतिक कार्यक्रमों में विजेताओं को पुरस्कृत किया गया। जिसमें उत्तराखंड सामान्य ज्ञान प्रतियोगिता में दीपक चंद्र,यशोदा व अंजली रही।

वहीं भाषण प्रतियोगिता उत्तराखंड में पलायन की रोकथाम के लिए सुझाव में सुनीता, यशोदा,निबंध प्रतियोगिता में सुनीता,यशोदा,अंजली पंत रहें।

इस दौरान कार्यक्रम में शुभम गंगवार, भूपेंद्र नेगी ,रोहित, अरुण,दीवान बिष्ट,रोहित,शिवांश, विशाल, किरन पांडे, बरखा, उमा, सुमित , दीपक चंद्र, दीपक जोशी, आनंद , कोमल मठपाल,कोमल कठायत, अंजू,अंजली,कविता, किरन,सुनीता, पूनम, सरिता, प्रकाश,लक्ष्मी,रजनी समेत अन्य लोग मौजूद रहें।

कार्यक्रम का सफलत संचालन व धन्यवाद ज्ञापन डॉ.केतकी तारा कुमाय्याँ द्वारा किया गया।

सम्बंधित खबरें
- Advertisment -spot_imgspot_img

ताजा खबरें