Monday, January 30, 2023
No menu items!
Google search engine
Homeउत्तराखंडब्रेकिंग नैनीताल: डीएम के आदेश को दरकिनार करते हुए फाड़ दिए थे...

ब्रेकिंग नैनीताल: डीएम के आदेश को दरकिनार करते हुए फाड़ दिए थे पालिका ने पोस्टर एडीएम ने ईओ की लगाई क्लास सिखाया कानून का पाठ

नैनीताल::- मल्लीताल क्षेत्र में स्थित डीएम धीराज गर्ब्याल के प्रयासों से सौन्दर्यकृत बीएम शाह ओपन थियेटर की दीवारों और रेलिंग पर लगे पोस्टर्स को संपत्ति निरूपण एक्ट का हवाला देकर नगर पालिका प्रशासन द्वारा उखाड़ने के मामले में आज एसडीएम एडीएम नगर पालिका ईओ और तमाम रंगकर्मियों के बीच एक बैठक हुई। पूरे मामले को सुनने के बाद एडीएम और एसडीएम ने ईओ की फटकार लगाते हुए पूछा कि ओपन थियेटर में थियेटर नही होगा तो क्या होगा? एडीएम अशोक सिंह ने ईओ से पूछा कि सिनेमा हॉल में कौनसी फ़िल्म लगी है इसका पोस्टर बाहर लगा होता है या नही। तभी तो पता चलता है कि अंदर कौनसी फ़िल्म चल रही है। उन्होंने उदाहरण देते हुए कहा कि बस स्टेशन में बस नही खड़ी होगी तो क्या खड़ा होगी। इसी तरह ओपन थियेटर में नाट्य कार्यक्रमों के प्रचार के लिए पोस्टर्स नही लगेंगे तो कैसे पता चलेगा कि क्या कार्यक्रम होने वाला है।
एडीएम और एसडीएम ने ईओ से ये भी पूछा कि पोस्टर्स हटाने से पहले क्या आपने रंगकर्मियों को कोई नोटिस दिया। पोस्टर्स हटाने से पहले रंगकर्मियों को सूचना क्यो नही दी गयी। एसडीएम ने ईओ से ये भी कहा कि नाट्य महोत्सव के लिए डीएम ने परमिशन दी थी फिर क्यों ये सब किया गया ? मामले में ईओ से भी कहा कि पूरे शहर में तमाम पोस्टर्स लगे रहते है जब तक प्रशासन नही कहता आप उन्हें नही उतरवाते आज थियेटर के पोस्टर्स में ऐसी कौन सी बात हो गयी थी कि आपने कर्मचारियों को भेजकर पोस्टर्स उखड़वा दिए। उन्होंने ये भी कहा कि पंत पार्क से गुरुद्वारा तक हो रहे अतिक्रमण पर हाईकोर्ट के आदेशों का अनुपालन तो आप करवा नही रहे हैं लेकिन यहां आपने नाट्य महोत्सव के पोस्टर्स हटवा दिए,क्या पूरे शहर में पोस्टर्स बैनर हटवाए जा रहे है अगर इसी कड़ी में पोस्टर्स हटाये गए तो जवाब दें।
एसडीएम और एडीएम के तीखे सवालों पर ईओ नगर पालिका ज़्यादातर समय खामोश ही रहे, और फटकार लगने के बाद उन्होंने रंगकर्मियों के नाट्य महोत्सव को सहयोग करने का आश्वासन दिया।
वही रंगकर्मी इदरीस मलिक ने गुरुवार को ईओ के साथ की अभद्रता पर माफ़ी मांगी और कहा कि “मेरे गुरुजनों की फ़ोटो जब रौंद दी गयी तो मैं आवेश आ गया और तू तड़ाक कर बैठा जिसका मुझे बेहद अफसोस है और एसडीएम एडीएम के सामने मैं माफी मांगता हूं और लिखित में भी मैं माफ़ी मांगने को तैयार हूं”।
एसडीएम ने रंगकर्मियों को बीएम शाह ओपन थियेटर में अपने नाट्य महोत्सव को 5 नवंबर तक जारी रखने की परमिशन देते हुए मल्लीताल कोतवाल प्रीतम सिंह को नाट्य महोत्सव के दौरान लॉ एंड ऑर्डर संभालने के निर्देश भी दिए ताकि महोत्सव के दौरान किसी भी तरह का कोई हंगामा न हो साथ ही रंगकर्मियों को जिस दिन जो कार्यक्रम होगा उसी कार्यक्रम के पोस्टर्स लगाने की अनुमति दी है।

सम्बंधित खबरें
- Advertisment -spot_imgspot_img

ताजा खबरें