Friday, January 27, 2023
No menu items!
Google search engine
Homeअपराधपिथौरागढ़ : जंगलों में आग लगाई तो होगी जेल,आर्मी, आईटीबीपी, एसएसबी व...

पिथौरागढ़ : जंगलों में आग लगाई तो होगी जेल,आर्मी, आईटीबीपी, एसएसबी व पुलिस के जवान भी रखेंगे नजर

पिथौरागढ़ ::- अब जंगलों में आग लगाई तो होगी जेल। आर्मी, आईटीबीपी, एसएसबी व पुलिस के जवान भी रखेंगे नजर। दूरबीन से भी की जाएगी निगरानी।

जंगलों की आग को लेकर डीएम सख्त हो गए हैं। उन्होंने कहा कि अब जुर्माने के साथ ही आग लगाने वालों को जेल भी होगी। आग लगाने वाले का नाम बताने वाले व्यक्ति नाम गोपनीय रखते हुए इनाम भी दिया जाएगा।

वनाग्नि की बढती घटनाओं को देखते हुए जिलाधिकारी डॉ आशीष चौहान ने सोमवार को वर्चुअल माध्यम से आर्मी, आईटीबीपी, एसएसबी, पुलिस, पीआरडी, वन विभाग एवं तहसील स्तरीय अधिकारियों की बैठक ली। उन्होंने ब्लाक, तहसील एवं जिला स्तर पर नोडल अधिकारी नामित करते हुए वनाग्नि घटनाओं पर निगरानी रखने के निर्देश दिए। कहा कि आर्मी, आईटीबीपी व एसएसबी व पुलिस को भी एरिया आवंटित करते हुए उनका सहयोग भी लिया जाए। ग्राम प्रधान, ग्राम प्रहरी, ग्राम विकास अधिकारी व राजस्व उपनिरीक्षक सक्रियता के साथ वन संपदा को बचाने के लिए काम करें। इसमें सिविल सोसायटी के लोगों को भी शामिल करें। वनों की आग बुझाने के लिए एक सिस्टम और प्लानिंग के साथ काम किया जाए। उन्होंने वन महकमे को जंगलों में लगी आग पर शीघ्र काबू पाने के लिए बेहतर समन्वय व तालमेल के साथ काम करने की बात कही। डीएम ने निर्देश दिए कि जंगलों में आग लगाने वालों की पहचान करें और उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई करते हुए एफआईआर दर्ज की जाए। विगत दो दिन पहले कमिश्नर और डीएम के भ्रमण के दौरान सोरलेक के निकट जंगल में आग लगाने पर एक व्यक्ति के खिलाफ एफआईआर दर्ज भी की जा चुकी है।



इस साल मार्च व अप्रैल में कम बारिश हुई है, जिससे आने वाले समय में गर्मी बढने से वनाग्नि की घटनाएं बढ सकती है। सभी एसडीएम को अपने क्षेत्रों निगरानी रखते हुए खेतों में पराली जलाने वालों पर नजर रखने को कहा। मुख्य शिक्षा अधिकारी को निर्देशित किया कि विद्यालयों में प्रार्थना सभा में प्रत्येक दिन वनाग्नि से होने वाले नुकसान के प्रति बच्चों को जागरूक किया जाए।

इस दौरान बैठक में डीएफओ कोको रोसो सहित आर्मी, आईटीबीपी, एसएसबी, पुलिस, आपदा प्रबंधन सहित वर्चुअल माध्यम से तहसीलों से सभी एसडीएम शामिल रहें।

सम्बंधित खबरें
- Advertisment -spot_imgspot_img

ताजा खबरें