Wednesday, February 8, 2023
No menu items!
Google search engine
Homeउत्तराखंडअल्मोड़ा : स्टार्टअप बाबा ऐग्रोटेक को कृषि एवं खाद्य प्रसंस्करण के क्षेत्र...

अल्मोड़ा : स्टार्टअप बाबा ऐग्रोटेक को कृषि एवं खाद्य प्रसंस्करण के क्षेत्र मे इनोवेटिव प्रयास के लिए कमल पाण्डे एवं नमिता टम्टा को स्टार्टअप उत्तराखण्ड ग्रांड चैलेंज किया विजेता घोषित

अल्मोड़ा ::- स्टार्टअप बाबा ऐग्रोटेक को कृषि एवं खाद्य प्रसंस्करण के क्षेत्र मे इनोवेटिव प्रयास के लिए कमल पाण्डे एवं नमिता टम्टा को स्टार्टअप उत्तराखण्ड ग्रांड चैलेंज विजेता घोषित किया गया है। उनको यह पुरुस्कार उत्तराखण्ड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी के द्वारा 50 हजार की राशि, प्रशस्ति पत्र एवं अन्य कई घोषणाओं के रुप मे दिया गया। उत्तराखण्ड सरकार उद्योग विभाग एवं स्टार्टअप उत्तराखण्ड द्वारा “स्टार्ट-अप ग्राण्ड चैलेंज” का आयोजन विगत कई वर्षों से किया जा रहा है। इनोवेटिव स्टार्ट अप को उद्यम के रुप मे आगे बढाने की इसी कड़ी मे वर्ष 2022 मे प्रदेश के 10 अलग अलग उद्यम को सम्मानित किया गया।

अल्मोड़ा के युवा उद्यमी कमल एवं नमिता द्वारा यह स्टार्टअप 2020 मे लॉकडाउन समाप्ति के बाद अल्मोड़ा के पपरशैली में शुरू किया गया। विगत 2 वर्षो से इनके द्वारा औषधीय मशरूम के प्रचार प्रसार एवं खाद्य प्रसंस्करण में नए प्रयासों के लिए विभिन्न स्तरों में सरकार द्वारा सम्मानित किया जा चुका है। जिनमे से 2021 मे अंतराष्ट्रीय मशरूम फेस्टिवल में कृषि मंत्री सुबोध उनियाल द्वारा प्रशस्ति पत्र, जिले में औषधीय मशरूम के क्षेत्र में अपने कार्यों के लिए कृषि मंत्री द्वारा 2022 मे किसान सम्मान किया गया।

अल्मोड़ा निवासी कमल पाण्डे पैशे से आईटी इंजीनियर और वर्तमान में गुड़गांव की एक एमएनसी में वर्क फ्रॉम होम के साथ साथ स्वरोजगार भी कर रहे है। वही अल्मोड़ा निवासी नमिता टम्टा सोबन सिंह जीना यूनिवर्सिटी की फाइन आर्ट्स के अंतिम वर्ष की छात्रा है और साथ ही साथ कृषि एवं खाद्य प्रसंस्करण में महिलाओ को ट्रेनिंग भी दे रही है।

इस मौके पर मोहन उप्रेती शोध समिति के अध्यक्ष हेमन्त कुमार जोशी, सीबीसी से कल्याण मनकोटी, रिटा. वेज्ञानिक डॉ. पीएस नेगी, देवेन्द्र कुमार टम्टा एवं गीता जोशी ने हर्ष जताया है।

सम्बंधित खबरें
- Advertisment -spot_imgspot_img

ताजा खबरें