Wednesday, February 8, 2023
No menu items!
Google search engine
Homeउत्तराखंडनैनीताल : जिलाधिकारी धीराज सिंह गर्ब्याल ने पालिका के अधिशासी अधिकारी को...

नैनीताल : जिलाधिकारी धीराज सिंह गर्ब्याल ने पालिका के अधिशासी अधिकारी को शहर में नारायण नगर में कम्पोस्टिंग साईट को तत्काल प्रारम्भ करने के दिए निर्देश

नैनीताल ::- सरोवर नगरी नैनीताल में स्वच्छता स्तर को कैसे बढ़ावा दिया जाये। इसको लेकर सोमवार को एलडीए सभागार में जिलाधिकारी धीराज सिंह गर्ब्याल की अध्यक्षता में एक महत्वपूर्ण बैठक आयोजित की गई। गर्ब्याल ने नगर पालिका के अधिशासी अधिकारी अशोक कुमार वर्मा को निर्देश दिये कि शहर में नारायण नगर में कम्पोस्टिंग साईट को तत्काल प्रारम्भ करने के निर्देश दिये। उन्होंने मोहल्ला स्वच्छता समिति को प्रभावी रूप से सक्रिय किये जाने के निर्देश दिये जिससे शहर में स्वच्छता के तहत साफ-सफाई रखी जा सके। डोर टू डोर कलेक्शन तो हो रहा परन्तु जैविक एवं अजैविक कूड़े को प्रत्येक घरों से ही अगल-अगल डस्टबिनों के माध्यम से कलेक्शन किया जाये। शहर के प्रत्येक घरों में जैविक व अजैविक कूड़े को अलग-अलग रखने को जागरूक करें।

नगर पालिका द्वारा कूड़े के निस्तारण हेतु जो वाहन उपलब्ध कराये हैं तथा जो वाहन चढ़ाई चढ़ने में परेशानी करते हैं उन वाहनों की रिपेरिंग करने के साथ उनमें फोर-बाय- फोर की सुविधा भी तत्काल रूप से उपलब्ध कराई जाये। शहर में जिन स्थानों में डस्टबिन खराब हैं या टूटे हैं उनको पुनः बदलने व रंगाई के साथ-साथ ही खुले हुए उन डस्टबिनों में ढक्कन लगवाने के निर्देश भी दिये। उन्होंने कहा कि शहर के प्रत्येक वार्ड में कूड़ा एकत्र करने के लिए स्थान चिन्हित करने के निर्देश ईओ को दिये। उन्होंने कहा कि सभी नगर निकाय सफाई व्यवस्था व कूड़ा कलेक्शन पर विशेष ध्यान दें। डोर टू डोर कूड़ा कलेक्शन करें साथ ही नगरवासियों को भी जागरूक करें ताकि घर से ही कूड़ा पृथकरण हो सके। उन्होंने कहा कि कूड़ा कलेक्शन संस्थाओं को और अधिक सक्रिय करते हुए कूड़ा कलेक्शन सुविधा को अधिक बेहतर बनाये जा सके ताकि व्यक्ति यूजर चार्जेस आसानी व खुशी के साथ दे। उन्होंने निर्देश दिये कि प्राथमिकता के आधार पर मुख्य बाजारों व कॉमर्शियल क्षेत्रों को बिनलेस बनाया जाये। उन्होंने कहा कि निकायों की आय वृद्वि हेतु बोर्ड के साथ समन्वय बनाते हुए कार्य किये जाये तथा कामर्शियल क्षेत्रों में एसस्मेंट सही से किया जाये।
       
 मिशन बटर फ्लाई परियोजना के निदेशक जोगेन्द्र बिष्ट ने बताया कि नैनीताल इस कार्य में अग्रणीय रहा हैं। वर्ष 2008 से 2012 में मिशन बटर फ्लाई परियोजना चली थी। जिसमें शहर के लगभग छ हजार परिवार जुड़े थे। शहर में जो भी कूड़ा है उसका सही प्रबन्धन का मॉडल पूरे देश के लिए तैयार हुआ था। जिसके तहत 37 स्वच्छता समितियॉ बनाई गई थी जिसमें आशावर्कर, आंगनवाड़ी कार्यकत्री सदस्य सचिव व सभासद संरक्षक हुआ करते थे उनको पुर्नजीवित करने को कहा।

बैठक में अध्यक्ष नगर पालिका सचिन नेगी, भवाली संजय वर्मा, अपर जिलाधिकारी अशोक कुमार जोशी, उपजिलाधिकारी राहुल साह, नगपालिका के स्वास्थ अधिकारी, गणेश सिंह धर्मशक्तू, मनोज जोशी के साथ नगर के सभी सभासद मौजूद रहे।
 

सम्बंधित खबरें
- Advertisment -spot_imgspot_img

ताजा खबरें