Tuesday, February 7, 2023
No menu items!
Google search engine
Homeउत्तराखंडअब भिक्षा नहीं, शिक्षा लेकर भविष्य होगा साकार, नैनीताल पुलिस ने ऑपरेशन...

अब भिक्षा नहीं, शिक्षा लेकर भविष्य होगा साकार, नैनीताल पुलिस ने ऑपरेशन मुक्ति अभियान में सैकडों बच्चों का किया पुर्नवास

नैनीताल ::- एसएसपी नैनीताल के दिशा-निर्देशन में जनपद स्तर पर 1 अगस्त से चलाये जा रहे ऑपरेशन मुक्ति अभियान के तहत नैनीताल पुलिस द्वारा गठित की गयी 04 टीमों के द्वारा नैनीताल जिले के विभिन्न सार्वजनिक स्थलों बस अड्डों,रेलवे स्टेशनों, धर्मिक स्थलों, दुकानों, वर्कशापों तथा होटलों में भिक्षावृत्ति, मजदूरी, कूडा बिनने जैसे अनेकों कार्यां में लिप्त नाबालिकों का सत्यापन कर उनके परिजनों के सुपुर्द किया गया। अभी तक अभियान के प्रारम्भ से 99 बालक व 89 बालिका कुल 188 नाबालिक बच्चों का सत्यापन कर उनके परिजनों को सुपुर्द किया गया है। बच्चों के भविष्य को उजागर करने के लिए लगातार गोष्ठियों का आयोजन भी किया जा रहा है। सुपुर्द किये गये 188 बच्चों में से 92 बच्चे स्कूल जाते हैं। शेष बच्चों के परिजनों को बच्चों के उज्जवल भविष्य के लिये अनिवार्य उचित शिक्षा के लिये स्कूलों में दाखिल करने के लिये प्रेरित एवं जगारूक किया जा रहा है।


इसी क्रम में ऑपरेशन मुक्ति को अधिक सार्थक परिणाम हासिल करने के लिये गुरुवार को हरबंस सिंह, पुलिस अधीक्षक नगर हल्द्वानी द्वारा पुलिस बहुउद्देशीय भवन हल्द्वानी में बच्चों के अधिकारों के संरक्षण के लिये स्थापित किये गये जिले के सरकारी तथा गैर सरकारी विभागों/संस्थाओं/संगठनों के प्रतिनिधियों के साथ गोष्ठी आयोजित की गयी। गोष्ठी के दौरान सभी मौजूद विभागों एवं सस्थाओं के प्रतिनिधि एवं सदस्यों के सुझाव लिये गये।

एसपी सिटी हल्द्वानी द्वारा अभियान में अच्छे परिणाम हासिल करने के लिये ऑपरेशन मुक्ति में नियुक्त की गयी टीमों को अभियान हेतु निर्धारित कार्ययोजना के अनुसार कार्यवाही किए जाने की अपेक्षा की गई है। अभियान के दौरान नुक्कड़ नाटक, बैनर, पैंपलेट, रैली, स्लोगन के माध्यम से सभी सार्वजनिक स्थानों में जागरूकता कार्यक्रम आयोजित किए जाने हेतु भी निर्देशित किया गया।
गोष्ठी के दौरान समाज कल्याण विभाग, जिला प्रोबेशन विभाग, महिला एवं बाल विकास विभाग, चिकित्सा स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग, अभियोजन कार्यालय, श्रम विभाग, महासचिव नैब, अध्यक्ष एवं सदस्य बाल कल्याण समीति, एसओएस भीमताल, किशोर न्याय बोर्ड, वीरांगना संस्था, बाल आश्रय गृह धरोहर, चाइल्ड लाइन तथा ऑपरेशन मुक्ति अभियान में नियुक्त टीमों के प्रतिनिधि एवं सदस्य मौजूद रहे।

सम्बंधित खबरें
- Advertisment -spot_imgspot_img

ताजा खबरें