Monday, January 30, 2023
No menu items!
Google search engine
Homeउत्तराखंडबागेश्वर : ग्राम्य विकास विभाग द्वारा संचालित दीन दयाल अन्त्योदय योजना राष्ट्रीय...

बागेश्वर : ग्राम्य विकास विभाग द्वारा संचालित दीन दयाल अन्त्योदय योजना राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन के तहत सरस गैलरी उत्सव का शुभारंभ

बागेश्वर ::- ग्राम्य विकास विभाग द्वारा संचालित दीन दयाल अन्त्योदय योजना राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन के अंतर्गत सरस मार्केट में 26 सिंतबर से 05 अक्टूबर तक चलने वाले सरस गैलरी उत्सव का शुभारंभ मुख्य विकास अधिकारी संजय सिंह, नगर पालिका अध्यक्ष सुरेश खेतवाल व ब्लॉक प्रमुख बागेश्वर पुष्पा देवी द्वारा संयुक्त रूप से फीता काट कर किया गया। अतिथियों ने स्वंय सहायता समूह द्वारा उत्पादित उत्पादों के स्टॉलों का निरीक्षण किया व उन्हें प्रोत्साहित करते हुए उनकी सराहना की।

बतौर मुख्य अतिथि संबोधित करते हुए मुख्य विकास अधिकारी सिंह ने उपस्थित सभी को नवरात्रि की शुभकामना देते हुए कहा कि नारियां शक्ति स्वरूपी होती हैं, अपनी शक्ति को पहचायें व अपनी पहचान बनाते हुए समाज का नेतृत्व करें यही हमारा लक्ष्य है। उन्होंने कहा कि एनआरएलएम के माध्यम से समूह व उनके सदस्य महिलाओं को पहचान मिलती है साथ ही उनकी आर्थिक वृद्धि होती हैं। उन्होंने कहा हमारे स्थानीय उत्पादों को पहचान दिलाने में स्वंय सहायता समूह की अहम भूमिका है। उन्होंने कहा कि महिलाओं का विकास होगा तो परिवार के साथ ही समाज का विकास होगा। सिंह ने कहा एनआरएलएम का उद्देश्य महिलाओं को सशक्त व आर्थिक रूप से मजबूत बनाना है। उन्होंने कहा उत्पादों की गुणवत्ता व पैकेजिंग महत्वपूर्ण हैं उस पर विशेष ध्यान दें। उन्होंने कहा ऐसे उत्सव मेले का निरंतर आयोजन करने का प्रयास किया जायेगा, ताकि समूह के उत्पादों को बाजार मिल सकें। उन्होंंने कहा कि सरकार विभिन्न माध्यम से युवा बच्चों को विभिन्न प्रकार का प्रशिक्षण भी देती है जो नि:शुल्क होता है। उन्होंने स्वंय सहायता समूह के महिला सदस्यों से कहा कि वे अपने उत्पादों की बेहतरीन गुणवता बनायें व उसकी खूबसूरत पैकेजिंग करें। उन्हें देश-प्रदेश में मार्केट मिल सकें।

जिला विकास अधिकारी संगीता आर्या ने बताया कि जनपद में एनआरएलएम 2018 शुरूआत हुई, आज जनपद में 07 कलस्टर लेवल फेडरेशन व 173 ग्राम संगठन कार्य कर रहें हैं, जिसमें लगभग 1869 स्वंय सहायता समूह कार्यरत हैं। उन्होंने कहा एनआरएलएम का मुख्य उद्देश्य महिलाओं को आर्थिक रूप से मजबूत कर उन्हें समाज में पहचान दिलाना हैं, इसलिए महिलायें जागरूक होकर समूह से जुडकर अपने उत्पादों को बाजार में बिक्री कर कौशल का बढायें व अपने परिवार की आर्थिकी मजबूत करें। उन्होंने क्षेत्रवासियों से अपील की कि वे सरस महोत्सव में पहुंचकर ग्रामीण महिलाओं के उत्पाद खरीदकर उनका उत्साहवर्द्धन करें। ब्लॉक प्रमुख पुष्पा देवी ने सभी को बधाई देते हुए दस दिवसीय सरस उत्सव की सफलता की कामना की। कलस्टर लेवल फेडरेशन के धना देवी व आशा खेतवाल ने अपने अनुभव भी साझा कियें।

कार्यक्रम में खंड विकास अधिकारी आलोक भण्ड़ारी, एनआरएलएम समन्वयक नीरज जोशी, सभासद प्रेम सिंह हरडिया, अनिता टम्टा सहित 07 कलस्टर लेवल फेडरेशन के स्वंय सहायता समूह के महिलायें मौजूद थी।

सम्बंधित खबरें
- Advertisment -spot_imgspot_img

ताजा खबरें