Friday, January 27, 2023
No menu items!
Google search engine
Homeउत्तराखंडअल्मोड़ा : मानसिक स्वास्थ्य एवं कल्याण में योग की भूमिका विषय पर...

अल्मोड़ा : मानसिक स्वास्थ्य एवं कल्याण में योग की भूमिका विषय पर एसएसजे विश्वविद्यालय द्वारा आयोजित दो दिवसीय अंतरराष्ट्रीय वेबिनार का हुआ समापन

अल्मोड़ा ::- मानसिक स्वास्थ्य एवं कल्याण में योग की भूमिका” विषय पर योग विज्ञान विभाग एसएसजे विश्वविद्यालय द्वारा आयोजित दो दिवसीय अंतरराष्ट्रीय वेबिनार का समापन किया गया। कार्यक्रम में मुख्य अतिथि सूरजमल विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. एचएस भण्डारी, एवं विशिष्ट अतिथि चन्द्रगुप्त प्रबंधन संस्थान, पटना से प्रो. राणा सिंह, कार्यक्रम अध्यक्ष एसएसजे परिसर अल्मोड़ा की अधिष्ठाता छात्र कल्याण प्रो. इला साह द्वारा वर्चुअल माध्यम से किया गया । योग विभागाध्यक्ष एवं वेबिनार के संयोजक डॉ.नवीन भट्ट ने सभी अतिथियों का स्वागत किया। इसके पश्चात विशिष्ट अतिथि प्रो. राणा ने कहा कि योग को अपनी दिनचर्या में शामिल करने से मनुष्य शारीरिक, मानसिक एवं संवेगात्मक रूप से स्वस्थ रखने के साथ ही समाज का भी कल्याण कर सकता है। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि प्रो.भंडारी ने कहा कि वैदिक ग्रन्थों विशेषतः गीता के अनुसरण से ही मनुष्य मानसिक स्वास्थ्य एवं प्रसन्नता को प्राप्त कर सकता है।

वेबिनार के द्वितीय दिवस के प्रथम सत्र में सत्रीय अध्यक्ष के रूप में कुमाऊँ विश्वविद्यालय की पूर्व मनोविज्ञान विभागाध्यक्ष प्रो.आराधना शुक्ला, मुख्य वक्ता के रूप में उत्तराखंड संस्कृत विश्वविद्यालय के विभागाध्यक्ष प्रो. कामाख्या कुमार तथा वक्ताओं के रूप में केंद्रीय विश्वविद्यालय गढ़वाल से डॉ. घनश्याम ठाकुर, लाल बहादुर शास्त्री राष्ट्रीय संस्कृत विश्वविद्यालय से डॉ.रमेश कुमार, स्वामी विवेकानंद योग अनुसन्धान संस्थान से प्रो. सोनी कुमारी एवं उत्तराखंड मुक्त विश्वविद्यालय से डॉ.दीपक कुमार ने मानसिक स्वास्थ्य के वैज्ञानिक पहलुओं पर प्रकाश डालते हुए मन एवं चित्त की विभिन्न अवस्थाओं की चर्चा की गयी।

वेबिनार में योग शिक्षक लल्लन कुमार, चन्दन लटवाल, गिरीश अधिकारी सहित देश- विदेश के विभिन्न संस्थानों से लगभग डेढ़ हजार प्रतिभागी वर्चुअल रूप से उपस्थित रहे।

सम्बंधित खबरें
- Advertisment -spot_imgspot_img

ताजा खबरें