Tuesday, February 7, 2023
No menu items!
Google search engine
Homeअपराधअल्मोड़ा : ड्रग्स फ्री देवभूमि मिशन 2025 के अंतर्गत वृहद स्तर पर...

अल्मोड़ा : ड्रग्स फ्री देवभूमि मिशन 2025 के अंतर्गत वृहद स्तर पर नशा मुक्ति पर सेमिनार, काउंसलिंग कार्यक्रम का आयोजन, नशा न करने के लिए चलाया हस्ताक्षर अभियान

अल्मोड़ा ::- मुख्यमंत्री उत्तराखण्ड सरकार के “ड्रग्स फ्री देवभूमि” मिशन 2025 को साकार करने के लिये प्रदीप कुमार राय वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक के निर्देशन में अल्मोड़ा पुलिस द्वारा विश्वव्यापी संस्था अल्कोहल एनोनिमस,नारकोटिक्स एनोनिमस संस्था के सहयोग से जनपद अल्मोड़ा में वृहद स्तर पर नशा मुक्ति का सेमिनार, काउंसलिंग कार्यक्रम आयोजित किया जा रहा है।

कार्यक्रम में सेना के जवान,पुलिस जवान/,स्कूली छात्र-छात्राओं,जनपद के समस्त विभागों,जन सामान्य,व्यापार मण्डल सहित समस्त वर्गों, युवाओं को नशे से दूर रहकर खुशहाल जीवन जीने की प्रेरणा दी जायेगी।

इसी दौरान गोरखा हॉल आर्मी कैण्ट अल्मोड़ा में राजपूत बटालियन के अधिकारियों व जवानों को एल्कोहलिक ड्रग्स एनोनीमस संस्थान के अनुभवी सदस्यों द्वारा नशे के विरुद्ध जागरुक करते हुए बताया कि नशा व्यक्ति के नाश का कारण है वे पूर्व स्वंय नशे के शिकार थे, परन्तु अब नशे से दूर रहकर खुशहाल जीवन व्यतीत कर रहे हैं, समाज को नशे की बुराई से दूर रहने हेतु जागरुक कर रहे हैं। साथ ही नशा न करने के लिए हस्ताक्षर अभियान चलाया गया।

शारदा पब्लिक स्कूल में युवा छात्र-छात्राओं के साथ एसएसपी अल्मोड़ा एवं एल्कोहलिक ड्रग्स एनोनीमस संस्थान के अनुभवी सदस्यों द्वारा शारदा पब्लिक स्कूल की संस्थापक व प्रधानाचार्या विनीता लखचौरा एवं अन्य शिक्षक गण की उपस्थिति में गोष्ठी का आयोजन किया गया ।
एसएसपी प्रदीप राय ने छात्र-छात्राओं को अपने अनुभव साझा कर अपने माता-पिता के सपनो को साकार करने एवं गुरुजनों के मार्गदर्शन पर चलकर अपना भविष्य उज्जवल करने की प्रेरणा दी जिससे सभी छात्र-छात्राएं काफी प्रभावित हुए।

एसएसपी अल्मोड़ा ने कहा यह तभी सम्भव हो सकता है जब हम नशे रुपी दानव से दूर रहे एवं अपने दोस्तों एवं अन्य युवाओं को भी नशे से दूर रहने के लिए प्रेरित करे। कहा कि नशा मनुष्य को शारीरिक, मानसिक, सामाजिक, आर्थिक रुप से तोड़ देता है। नशा व्यक्ति को सर्वप्रथम समाज से अलग कर देता है, उसके पश्चात परिवार से अलग कर देता है, और अन्तः व्यक्ति को उसके शरीर से ही अलग कर देता है । नशे मे डूबा व्यक्ति अपने हँसते खेलते परिवार को बर्बाद करके रख देता है । हमें नशे को त्यागकर जिन्दगी को चुनना चाहिए ।

एल्कोहलिक ड्रग्स एनोनीमस संस्थान के अनुभवी सदस्यों द्वारा अपने छात्र जीवन एवं युवा अवस्था में उठाये गये गलत कदमों से नशे के प्रभाव में पड़ने से अस्त-व्यस्त जीवन/ अन्धकारमय भविष्य को साझा किया गया एवं नशे की बुराई को त्यागकर आज के उज्जवल भविष्य एवं खुशहाल परिवार के साथ जीवन व्यतीत कर देश भर में नशे के भंवर में फँसे लोगों को निकालने का प्रयास जारी है । सभी छात्र-छात्राओं को इस बुराई से दूर रहते हुए अपने भविष्य को उज्जवल बनाने की प्रेरणा दी।

इस दौरान जन जागरुकता कार्यक्रम में राजपूत रेजीमेंट की बटालियन के मेजर अतुल विक्रम, मेजर दीपक मठपाल, ओशीन जोशी पुलिस उपाधीक्षक आँपरेशन अल्मोड़ा, कैप्टन आशीष नेहरा, सु.मे देवी सिंह तथा शारदा पब्लिक स्कूल मे विनीता लखचौरा प्रधानाचार्य, ऋषि सेठ, वरि. उ.नि सतीश कापड़ी कोतवाली अल्मोड़ा, प्रभारी एडीटीएफ सौरभ भारती, प्रभारी एसओजी सुनील धानिक, पीआरओ हेमा ऐठानी व कानि. कविन्द्र सिंह मीडिया सैल सहित अन्य 250 आर्मी के अधि./ जवान व लगभग 400 छात्र-छात्राएं मौजूद रहे।

सम्बंधित खबरें
- Advertisment -spot_imgspot_img

ताजा खबरें