Saturday, January 28, 2023
No menu items!
Google search engine
Homeउत्तराखंडअल्मोड़ा : किशोर स्वास्थ्य एवं जीवन कौशल विकास विषय पर जीजीआईसी में...

अल्मोड़ा : किशोर स्वास्थ्य एवं जीवन कौशल विकास विषय पर जीजीआईसी में किया कार्यशाला का आयोजन

अल्मोड़ा ::- प्रो.भीमा मनराल के निर्देशन में लक्ष्मी देवी टम्टा महिला अध्ययन एवं शोध केन्द्र, शिक्षा संकाय एसएसजे विश्वविद्यालय अल्मोड़ा के तत्वाधान में किशोर स्वास्थ्य एवं जीवन कौशल विकास विषय पर संचालित की जा रही पाँच दिवसीय कार्यशाला के तृतीय दिवस का आयोजन राजा आनन्द सिंह राजकीय बालिका इण्टर कॉलेज में किया गया। कार्यक्रम का संचालन डॉ.संगीता पवार द्वारा किया गया। विद्यालय की प्रधानाचार्य डॉ. सावित्री टम्टा द्वारा ने बालिकाओं में किशोरावस्था में होने वाले परिवर्तनों को ध्यान में रखते हुये बच्चों की समस्याओं को सुना जाना चाहिए।

कार्यक्रम में विशिष्ट अतिथि डॉ. मधुलता नयाल, विभागाध्यक्ष मनोविज्ञान विभाग द्वारा किशोरियों को किशोरावस्था की समस्याओं उनके कारण एवं निवारण पर विस्तृत चर्चा की गई। किशोरावस्था में किशोरियों की शारीरिक, मानसिक बदलावों के कारण के बारे में बताया गया कि किस प्रकार किशोरियों की स्वास्थ्य, साफ-सफाई एवं सही पोषण की यदि सही व्यवस्था हो तो देश की मातृ शक्ति देश को मजबूत आधार प्रदान कर सकती है।

शोध छात्र एवं उत्तराखण्ड के पैड मैन के नाम के विख्यात आशीष पंत द्वारा मासिक धर्म के बारे में जागरूक करते हुये उनके ऊपर बनी डाक्यूमेन्ट्री “ब्लडिंग राइट” पर विस्तृत चर्चा की गई साथ ही उनके द्वारा मासिक धर्म को लेकर किए गए कार्यों का वर्णन कर छात्राओं को जागरूक किया गया। उन्होंने कहा की उन्हें मासिक धर्म विषय पर कार्य करने की प्रेरणा अपनी गाइड प्रो. इला साह से मिली।

डॉ.पूजा प्रकाश द्वारा अपने शोध विषय किशोरियों की स्वास्थ्य जागरूकता एवं जीवन शैली के परिणामो को बताया गया। कार्यक्रम में एमएड चतुर्थ सेमेस्टर के छात्र-छात्राओं द्वारा परिचर्चा एवं नुक्कड़ नाटक प्रस्तुत किया गये। राजा आनन्द सिंह राजकीय बालिका इण्टर कॉलेज की छात्राओं ने प्रतिभाग करते हुये अपनी समस्याओं को साझा किया।

सम्बंधित खबरें
- Advertisment -spot_imgspot_img

ताजा खबरें